पृष्ठ

रविवार, 22 अगस्त 2010

मुझसे पूछ लेना ....


जिंदगी मे.....

दोस्त और दोस्ती की कहानी
मुझसे पूछ लेना
वफा और बेफाई का सबब
मुझसे पूछ लेना

कल और आज की कहानी
मुझ से पूछ लेना
आज और कल की तन्हाई
मुझ से पूछ लेना

विश्वास और अविश्वास की कहानी
मुझ से पूछ लेना
प्यार और नफरत की दास्तां
मुझ से पूछ लेना

चेहरे और नकाब की कहानी
मुझसे पूछ लेना
फूल और कांटे की जुबानी
मुझ से पूछ लेना

दोस्त और दुशमन की कहानी
मुझ से पूछ लेना
सांस और आस की रवानगी
मुझसे पूछ लेना

दिल जुडने और टूटने की कहानी
मुझ से पूछ लेना
आंसू और दर्द की रिश्ता
मुझ से पूछ लेना

ख्वाबो और हकीकत की ये कहानी
मुझसे मत पूछ लेना
लिखे को पढना और समझना
मुझसे मत पूछ लेना

-प्रतिबिम्ब बड़थ्वाल, अबु धाबी, यूएई

3 टिप्‍पणियां:

  1. JEE CHAAH RAHA HAI AISEY KAVI SAY KHUB DOSTI HO JAYE AUR,,,AISEE MANBHAVAK BATEN PADNE KO MILE,,,FIR YEH DUNIA KITNI KAVAYMAYE HO JAYEGI,,,,[SUKH KI PARIBHASHA SAA LA RAHA HAI BAHUT KUCH]
    RAJVEEN

    उत्तर देंहटाएं
  2. ZINDGI KI KITAAB AAPNE KHOL KAR RAKH DI ...MAIN TO SAB SAMJH GAYA .....

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत खूब लिखा है आपने....
    दिल जुडने और टूटने की कहानी
    मुझ से पूछ लेना
    आंसू और दर्द की रिश्ता
    मुझ से पूछ लेना...
    बहुत सुन्दर लिखते हैं आप ..मन स्पर्शी...

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणी/प्रतिक्रिया एवम प्रोत्साहन का शुक्रिया

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...